युवाओं की पहली पसंद होते हैं एविएटर सन ग्लासेस

शेयर करें

बात जब सनग्लासेस की आती है तो युवाओं की पहली पसंद एविएटर्स ही होते हैं। यह सनग्लासेस पुरुषों को बहुत क्लासी लुक देते हैं इसलिए इनका चलन बहुत ज्यादा है। एविएटर सनग्लासेस का इतिहास भी बड़ा दिलचस्प है। असल में रे बेन कंपनी ने 1935 में यूएस फाइटर पायलट के लिए इस चश्मे को विशेष तौर पर बनाया था ताकि वह सूरज की रोशनी में भी अपने कंट्रोल पैनल को आराम से देख सके। जल्दी ही यह इन सनग्लासेस को पूरी दुनिया के लोग पहनने लग गए और तब से लेकर आज तक यह फैशन में बना हुआ है।

एविएटर बहुत सी स्टाइल में आते हैं। क्लासिक टियर ड्राप आपको एक हेरिटेज लुक देता है। नेविगेटर आगे से स्क्वायर शेप लिए हुए होते हैं इसलिए यह बाकी एविएटर से अलग दिखाई देते हैं । लंबे चेहरे वाले पुरूषों के लिए यह सबसे अच्छा एलिवेटर है। स्पोर्टी लुक वाले एविएटर आजकल काफी युवक पसंद कर रहे हैं।

एविएटर की स्टाइल की तरह उनका मैटल भी काफी मायने रखता है। प्लास्टिक, मैटल, मिक्स जैसे मैटीरियल्स में एविएटर आते हैं जिन्हें आप अपनी जरूरत और पसंद के हिसाब से खरीद सकते हैं। अगर लेंस की बात की जाए तो एविएटर में आपको बहुत सी वेराइटी मिल जाती है। ब्राउन लेंस, डार्क ग्रीन, ब्लैक जैसे बहुत से कलर आपको एविएटर में मिल जाएंगे।

एविएटर खरीदते समय सबसे ज्यादा इस बात का ख़याल रखना चाहिए की इसका ब्रिज कितना फिट बैठता है। ब्रिज का मतलब दोनों लेंसों के बीच की जगह है जो नाक पर सेट होती है। अगर यह दूरी कम है तो आपका एविएटर थोड़ा उठाऊंगा दिखेगा और अगर यह दूरी ज्यादा है तो आपके चश्मा आपके चेहरे से गिरने लगेगा इसलिए हमेशा वही एविएटर ले जो आपके ब्रिज पर बिल्कुल ठीक बैठे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *