भारत का सबसे शिक्षित राज्य केरल अपनी मंत्रमुग्‍ध कर देने वाली सुंदरता के लिए भी जाना जाता है ।

alleppeyhouseboatclub / Pixabay

वैसे तो केरल भारत के सबसे संपन्न और शिक्षित राज्यों में से एक है इसके अलावा यह एक बेहद की खूबसूरत राज्य भी है ! भरपूर ट्रॉपिकल हरियाली, नारियल के पेड़, तटों पर दूर तक फैले पाम, गदगद कर देने वाली पानी पर तैरती हाउसबोट, कई मंदिर, आयुर्वेद की सुंगध, दुर्बल झीलें या समुद्री झीलें, नहर, द्वीप आदि, केरल के बारे में न इंकार की जा सकने वाली छाप छोड़ते हैं जिसे सिर्फ केरल में ही देखा जा सकता है।

जो लोग दुनिया भर की सैर के प्‍यासे यानि चहेते हों, उनके लिए केरल का सफर बेहद यादगार होगा। यह कोई छोटा आश्‍चर्य नहीं है कि नेशनल ज्‍योग्राफी की मैगजीन “ट्रैवलर” और ‘ ट्रैवल + लीजर ‘ ने केरल को दुनिया के दस सबसे आनंददायक स्‍थलों में से एक बताया है और इसे जीवन में अवश्‍य देखे जाने वाले 50 गंतव्‍य स्‍थलों में भी शामिल किया है, साथ ही साथ 21 वीं शताब्‍दी की सौ महान यात्राओं की सूची में भी इसे स्‍थान प्राप्‍त हुआ है।

पर्यटन के रंग इस राज्‍य के हर शहर, टाउन और दूर – दराज के गांव को भगवान के निजी देश के रूप में नवाजा गया है। जो लोग अपनी आंखों से यहां के दुर्लभ नजारे देखना चाहते हैं उन्‍हे यह राज्‍य शांत बुलावा देता है और यहां आने पर अपनी सारी दांस्‍ता अपनी खूबसूरती में बयां कर देता है। केरल राज्‍य में कुल 14 जिले हैं जिनमें कासरगोड, कन्‍नूर, वायनाड, कोझीकोड,मालाप्‍पुरम, पलक्‍कड़, त्रिशुर, एर्नाकुलम, इडुकी, कोट्टयम, अलप्‍पुझा ( अलेप्‍पे ), पथानमथीट्टा, कोल्‍ल्‍म, तिरूवनंतपुरम सबसे ज्‍यादा प्रसिद्ध पर्यटन स्‍थलों में से हैं।

भ्रमण करने के शौकीन पर्यटकों के लिए केरल, पर्यटन के लिए क्षैतिज स्‍थल है यानि यहां आकर पर्यटक एक साथ कई स्‍थानों पर सैर करके दुनिया के सबसे सुंदर प्राकृतिक नजारों को देख सकते हैं। केरल पर्यटन खेल में कई रंग हैं रेतीले तटों पर सैर, मन को प्रफुल्लित कर देने वाले बैकवॉटर्स, प्रकृति की सुंदरता से भरपूर हिल स्‍टेशन, श्रद्धालुओं के लिए असंख्‍य धार्मिक स्‍थल, आदि। यहां पर्यटक के लिए हर वो चीज है जो उसकी छुट्टियों को आरामदायक और मूड फ्रेश कर देने वाला बनाता है, उसकी छुट्टियां मजेदार हो जाती हैं, साहसिक गतिविधियों में भी आनंद आता है, साथ ही साथ रोमेंटिक मुलाकात यादगार हो जाती है और भक्‍तों को शांत वातावरण में तीर्थस्‍थलों में भी दर्शन हो जाते हैं।

केरल के जलस्‍त्रोत – एक्‍वा का फैलाव वर्कला, बेकल, कोवलम, मीनकुन्‍नू, चेरई तट, पय्यमबलम तट, शांगुमुखम्‍भ, मुझुप्‍पीलांगढ तट आदि ऐसे मनमोहक तट है जो केरल के पर्यटन का अनूठा बनाते हैं। केरल अपने मनमोहक बैक वॉटर के लिए भी बहुत ही प्रसिद्द है जिसमें अलेप्पी, कुमारकोम, कासरगोड, कोल्लम और थिरुवल्लम को शामिल किया गया है। ये स्थान छुट्टियां मानाने के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं हैं। यहाँ बैक वॉटर पर आपको ढेर साड़ी मनमोहक हाउस बोट देखने को मिलेगी जिसको देखकर आप बस मन्त्र मुग्ध हो जाएंगे

शेयर करें

अबाउट Aman Gupta

इसके अलावा चेक करें

झीलों का शहर है भोपाल !

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल झीलों के शहर के रूप में भी प्रसिद्ध है । …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *