इन समस्याओं का इलाज है, लौकी के छिलके

लौकी का प्रयोग सिर्फ सब्जी के रूप में नहीं, बल्कि कोलेस्ट्रॉल और वजन कम करने आदि समस्याओं में औषधि के रूप में भी किया जाता है। सिर्फ लौकी ही नहीं उसका छिलका भी कुछ समस्याओं के लिए कारगर औषधि है।  कार्बोहाइड्रेट की उपलब्धता से यह आसानी से पच जाती है इसी लिए डायबिटीज के मरीजों के लिए भी लाभकारी है। जानिए कौन सी समस्याओं का अचूक इलाज है लौकी के छिलके –  

1.पेट रोग- लौकी को धीमी आंच में भूनकर भूर्ता बना लें, इसका रस निचोड़कर मिश्री मिलाकर पीने से लीवर व पेट के रोगों में लाभ होगा।

  1. त्वचा-लौकी के ताजा छिलके को पीसकर चेहरे पर लेप करने से त्वचा में निखार आता है।
  2. तलवों की जलन-लौकी को काटकर पैर के तलवों पर मलने से पैर की गर्मी व जलन दूर होती है।
  3. सनबर्न या टैनिंग – आपको यह जानकर हैरानी होगी, लेकिन लौकी के छिलके का प्रयोग धूप से झुलसी एवं काली हो चुकी त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके लिए बस इन छिलकों का पेस्ट बनाना है, और त्वचा पर लगाकर रखना है और फिर धो लेना है।
  4. दस्त- उबली हुई लौकी का रायता खाने से दस्त में आराम मिलता है।
  5. दांत दर्द-75 ग्राम लौकी व 20 ग्राम लहसुन पीसकर एक लीटर पानी में उबालें। पानी आधा रह जाए तो छानकर कुल्ला करें।
  6. बवासीर – बवासीर या पाइल्स की समस्या होने पर भी लौकी के छिलके फायदेमंद है। इन छिलकों को छाया में सुखाकर पीस लें और इसे रोजाना सुबह-शाम एक चम्मच ठंडे पानी के साथ सेवन करें। जल्द राहत मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*