धर्म-संसार

तुलसी करती है नजर दोष से बचाव

सनातन धर्म में  तुलसी को पूजनीय, पवित्र और देवी स्वरूप माना गया है।  अगर कोई अपने मन की बात, भगवान को सीधे न कह सके, तो वह तुलसी के माध्यम से अपनी बात, भगवान तक पहुंचा सकता है। घर में तुलसी का पौधा होने से सभी देवी-देवताओं की विशेष कृपा हमारे घर पर बनी रहती है। घर का वातावरण सकारात्मक ...

आगे पढ़ें »

भगवान सूर्य के यह 12 नाम देंगे मनचाहा वरदान

परम तेजस्वी दिव्य भगवान सूर्य नारायण का पूजन प्रतिदिन करना चाहिए। विशेष अवसरों पर उनके यह 12 नाम मनचाहा वरदान देते हैं। रविवार का दिन उनकी पूजन और आराधना को समर्पित है।  ॐ सूर्याय नम: ।  ॐ भास्कराय नम:।   ॐ रवये नम: ।  ॐ मित्राय नम: ।  ॐ भानवे नम:  ॐ खगय नम: ।  ॐ पुष्णे नम: । ॐ मारिचाये ...

आगे पढ़ें »

पीपल की पूजा से करे भगवान श्रीकृष्ण को प्रसन्न

सनातन धर्म शास्त्रों में ऐसा कहा गया है कि जो मनुष्य भगवान श्रीकृष्ण की पूजा करता है उसके सारे  दुःख अपने आप समाप्त हो जाते है। भगवान श्रीकृष्ण की आराधना से सारे ग्रहदोष,खत्म हो जाते है, श्रीकृष्ण की पूजा सौभाग्य, वैभव, धन, आयु, संतान सहित हर इच्छा पूरी करने वाली मानी गई है। अगर आप शनिवार के दिन पीपल की ...

आगे पढ़ें »

नवदुर्गा के 9 रूप बताते हैं स्त्री का संपूर्ण जीवन

एक स्त्री के पूरे के जीवन चक्र को मां अंबे के 9 रूपों से समझा जा सकता है। नवदुर्गा के 9 स्वरूपों के माध्यम से एक स्त्री का संपूर्ण जीवन प्रतिबिंबित होता है। जानिए कैसे…  जन्म ग्रहण करती हुई कन्या ‘शैलपुत्री’ स्वरूप है। कौमार्य अवस्था तक ‘ब्रह्मचारिणी’ का रूप है। विवाह से पूर्व तक चंद्रमा के समान निर्मल होने से ...

आगे पढ़ें »

जानें पूजा-पाठ में नारियल का महत्व

शास्त्रों के अनुसार सभी देवी-देवताओं को नारियल (श्रीफल) अनिवार्य रूप से अर्पित किया जाता है। ऐसा माना जाता है कि नारियल अर्पित करने से श्रद्धालु की सभी इच्छाएं भगवान पूरी कर देते हैं। नारियल को महालक्ष्मी का प्रतीक भी माना जाता है। किसी भी प्रकार का कोई भी धार्मिक कर्म हो वहां नारियल का स्थान महत्वपूर्ण होता है। इसी वजह ...

आगे पढ़ें »

ये हैं गंगाजल के चमत्कारी उपाय,जानिए…

 पुरानी मान्यताओं के अनुसार मां गंगा में स्नान व पूजा आदि करने से कई तरह के पाप कटते हैं इसका वैज्ञानिक कारण यह भी माना गया है कि गंगा के पानी में कई प्रकार के औषधीय गुण पाए जाते हैं जिसमें नहाने से कई प्रकार के रोग खत्म हो जाते हैं इतना ही नहीं गंगाजल को वास्तु शास्त्र से भी ...

आगे पढ़ें »

यहां सूर्य की पहली किरण से होता है “ ॐ “ का निर्माण

यूं तो कैलाश पर्वत स्वयं साक्षात महादेव का रूप है लेकिन यहां के कई नजारे हैं जो सभी को मंत्रमुग्ध कर देते हैं। उन्हें देखकर ऐसा लगता है कि कुदरत खुद भगवान शिवजी का श्रृंगार कर रही है। ऐसा ही एक दिव्य दृश्य है यहां पर्वत पर “ ॐ “  की आकृति का निर्माण जिनमें सूर्यदेव की किरणों की महत्वपूर्ण भूमिका ...

आगे पढ़ें »

जानिए इन जानवरों को भोजन कराने से मिलता है लाभ

हिंदू धर्म में पूजा-अर्चना के दौरान जानवरों को भोजन कराने का अपना एक अलग महत्व है। जानवरों सेवा से ईश्वर अत्यधिक प्रसन्न होते हैं और पापों से और जीवन की मुश्किलों से मुक्ति मिलती है। आइए जानते हैं कौन से जानवर को भोजन करवाने से क्या लाभ होता है… गाय को पहली बनी रोटी खिलाना बहुत शुभ माना जाता है। ...

आगे पढ़ें »

अन्नदान का महत्व क्या है जानिए…

पुराने जमाने में राजा-महाराजा जब भी कोई धार्मिक काम या फिर यज्ञ करते थे, तो वह जरुरतमंदो या फिर गरीब को दान दिया करते थे। माना जाता था कि दान देने से आप जिस काम के लिए जाना जाता है वो जरुर सफल होगा। शास्त्रों के अनुसार माना जाता है कि संसार का सबसे बड़ा दान अगर कुछ है तो ...

आगे पढ़ें »

सूर्य देव को ना चढ़ाये शंख से जल

सनातन धर्म में देवी- देवताओं की पूजा की परम्परा अनेकों वर्षों से लगातार चली आ रही है। भगवान की  पूजा द्वारा हमारी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है, परन्तु हम सभी को पूजा करने से पूर्व कुछ ख़ास नियमों का पालन करना चाहिए तभी हमे पूजा  का शुभ फल पूर्ण रूप से प्राप्त हो पायेगा। प्लास्टिक की बोतल में या किसी ...

आगे पढ़ें »