Tag Archives: हिंदू धर्म

अन्नदान का महत्व क्या है जानिए…

पुराने जमाने में राजा-महाराजा जब भी कोई धार्मिक काम या फिर यज्ञ करते थे, तो वह जरुरतमंदो या फिर गरीब को दान दिया करते थे। माना जाता था कि दान देने से आप जिस काम के लिए जाना जाता है वो जरुर सफल होगा। शास्त्रों के अनुसार माना जाता है कि संसार का सबसे बड़ा दान अगर कुछ है तो ...

आगे पढ़ें »

एकादशी को चावल क्यों नहीं खाते है, जानिए…

एकादशी व्रत का शास्त्रों ओर पुराणों में बड़ा महत्व बताया गया है। एकादशी वर्ष में 24 होती है। जिस वर्ष मलमास लगता है उस वर्ष इसकी संख्या बढ़ जाती है और कुछ एकादशी 26 हो जाती है। शास्त्रों में कहा गया है कि एकादशी के दिन व्रत रखकर भगवान विष्णु के विभिन्न अवतारों एवं स्वरूपों का ध्यान करते हुए इनकी ...

आगे पढ़ें »

हिंदू धर्म: जगन्नाथपुरी मंदिर का चमत्कार

जगन्नाथ मंदिर हिन्दुओं के चार धामों में से एक है यह भारत का भव्य मंदिर ओडिशा राज्य के तटवर्ती शहर पूरी में स्थित है।  जगन्नाथ मंदिर भग्वान विष्णु के 8वें अवतार भगवान श्रीकृष्ण को समर्पित है। पुराणों में इसे पृथ्वी का वैकुंठ कहा गया है। पुरी एक दक्षिणवर्ती शंख की तरह है और यह 5 कोस यानि 16 किलोमीटर क्षेत्र ...

आगे पढ़ें »

मंगलमय व पुण्यदायी मास है कार्तिक मास

हिंदुओं के लिए कार्तिक मास बेहद पवित्र माना जाता है। इस मास में श्रध्दालु शुभ कार्य करते हैं , दरअसल नदियों में स्नान करना बेहद मंगलमय व पुण्यदायी माना जाता है। स्कंद पुराण नारद पुराण आदि में इसका उल्लेख मिलता है। माना जाता है कि कार्तिक मास  में चंद्रमा पृथ्वी के करीब होता है। ऐसे में मानव पर चंद्रमा की ...

आगे पढ़ें »

बजरंग बाण के पाठ से हनुमान भक्त की बढ़ जाती है शक्ति

शास्त्रों के अनुसार मंगलवार “ पवनपुत्र” भगवान हनुमानजी का दिन माना गया है। हनुमानजी के कई मंत्र प्रचलित हैं, लेकिन ऐसे कई मंत्र है जो कभी खाली नहीं जाते। उन्हीं मंत्रों में से एक है बजरंग बाण। वैसे तो बजरंग बाण का नियमित पाठ  करना चाहिए। अगर कोई किसी वजह से नियमित पाठ नहीं कर पाते हैं तो मंगलवार को ...

आगे पढ़ें »

जन्माष्टमी…2016

जन्माष्टमी…2016 धरती पर आये कृष्ण कन्हैया, किया जगत का उध्दार ऐसी अलौकिक रची लीलायें भक्त करते नमन बारंबार । । –सभी webhaal पाठकों को जन-जन के आराध्य भगवान श्रीकृष्ण के जन्म उत्सव “जन्माष्टमी” की हार्दिक शुभकामनाएं

आगे पढ़ें »

भगवान श्रीकृष्ण से जुड़े 3 अद्भूत रहस्य

सौंदर्य, सुगंध, और सात्विकता का त्रिवेणी संगम थे भगवान श्रीकृष्ण। जानते हैं पुराणों में उनकी विशिष्ट देह के बारे में क्या वर्णन मिलता है।   1.भगवान श्रीकृष्ण की गंध कैसी थी- भगवान श्रीकृष्ण के शरीर से मादक गंध आती थी। इस वजह से कई बार वेष बदलने के बाद भी भगवान श्रीकृष्ण पहचाने जाते थे। कई ग्रंथों के अनुसार कृष्ण ...

आगे पढ़ें »

जानिए सनातन धर्म की 10 मान्यताएं और उनके कारण

भारत में विभिन्न ऐसी प्रथाएं प्रचलित हैं जिन्हें सामान्य तौर पर काल्पनिक अथवा यूजलैस कहकर अवहेलना की जाती है परंतु इन मान्यताओं के पीछे वैज्ञानिक कारण छिपे होते हैं, जिन्हें धर्म के साथ जोड़ दिया गया है। आइए जानते हैं सनातन धर्म में प्रचलित ऐसी ही 10 मान्यताओं के बारे में… 1.क्यों किया जाता है नमस्कार हिंदू धर्मावलंबी एक दूसरे ...

आगे पढ़ें »

श्रावण मास में इन पवित्र नामों से होते हैं,भोलेनाथ प्रसन्न

वेदों, पुराणों और उपनिषदों में अनेक नामों से भगवान शिवजी की महिमा गाई गई है। उनमें से कुछ नाम यहां उध्दृत किये जा रहे हैं:- हर-हर महादेव, शिव, केदारनाथ, रूद्र, अंगीरागुरू अंतक, अंडधर अंबरीश, अकंप, अक्षतवीर्य, अक्षमाली, अघोर, अचलेश्वर, अजातारि, अज्ञेय, अतीन्द्रिय, अत्रि, अनघ, अनिरुद्ध, अनेकलोचन, अपानिधि, अभिराम, अभीरु, अभदन, अमृतेश्वर, अमोघ, अरिदम, अरिष्टनेमि, अर्धेश्वर, अर्धनारीश्वर, अर्हत, अष्टमूर्ति, अस्थिमाली, आत्रेय, ...

आगे पढ़ें »

पालकी में विराजते हैं राजा महाकाल,श्रावण में अद्भुत होता है शिव आराधना का संसार

श्रावण मास का धार्मिक और ज्योतिषीय जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है। श्रावण भगवान शिवजी को बेहद ही प्रिय है । माना जाता है कि श्रावण मास में शिवलिंग पर जल समर्पित करने से श्रध्दालु की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती है और उसके समस्त पापों का नाश होता है। इतना ही नहीं उसके शिवलोक की प्राप्ति भी होती है। इस ...

आगे पढ़ें »